Help Line: + 91 7875-877-222 Email id:  info@onlymlm.in

Date: 26/09/2017
Time: 9:58:10 PM
रात में बार-बार नींद खुलना कहीं इस बीमारी का
Posted on : 08-Aug-16 11:53:45 pm     Posted by :Social Khabar
दिन भर की थकान के बाद अगर सुकून की नींद मिल जाए तो दूसरे दिन नई शुरुआत करना बहुत ही फ्रेश होता है. लेकिन यह रात की सुकून भरी नींद हर किसी के खाते में दर्ज नहीं होती है. इस बीमारी को नाइट ड्रेड के नाम से जाना जाता है.
विशेषज्ञों का मानना है कि अधि‍कतर कामकाजी लोगों को रात में बार-बार जगने की आदत पड़ जाती है. अगर आपकी आंख भी रात में सोते समय बेमतलब ही कई बार खुलती है तो आप कटस्ट्रोफिसिंग या नाइट ड्रेड नामक बीमारी के शि‍कार हो सकते हैं. इस बीमारी में आधी रात में नींद खुल जाती है और इंसान चौंक कर बैठ जाता है.

स्ट्रेस है बड़ी वजह
आजकल की जिंदगी में घर, रिश्तों और ऑफिस के काम का प्रेशर तनाव को बढ़ाने के लिए काफी है. आपकी सुकून भरी नींद से तनाव का गहरा रिश्ता है. जब आपका दिमाग शांत होता है तो आपको अच्छी नींद आती है और आप दिनभर ताजगी से भरे रहते हैं. लेकिन जैसे ही आपका दिमाग प्रेशर और तनाव से भर जाता है तो आपकी सोने की आदतों पर प्रभाव डालती है. यह समस्‍या इंसोमेनिया की बीमारी से बहुत अलग है. इसलिए इसे इस बीमारी से न जोड़ें.

करवट लेना है आम
किसी भी चिंता की वजह से रात को नींद का टूट जाना, बेचैनी महसूस होना, मन उदास होना, तनाव और पसीने का आना आदि आम लक्षण हैं. कारण एक व्यक्ति 90-120 मिनट के बीच में सोता है और इनमें से अधिकांश लोग इस बीच करवट बदलते हैं और फिर सो जाते हैं. लेकिन इसके विपरीत कई लोग चिंता और डर की वजह से उठ जाते हैं और फिर दोबारा सो नहीं पाते हैं. यह समस्या किसी को भी हो सकती है.

क्या कारण हैं इसके
इस बीमारी के कई कारण हो सकते हैं जैसे: देर रात तक जागना, खानपान की आदतों का खराब होना, डिप्रेशन और मेनोपॉज जल्द &#
User Login